[Super Over] सुपर ओवर क्या होता है और इसके क्या नियम होते हैं?

इस आर्टिकल में हम सुपर ओवर क्या होता है और इसके क्या नियम होते हैं? के बारे में विस्तार से पढ़ते हैं – What is a super over and what are its rules?

सुपर ओवर क्या होता है? (what is super over?)

सुपर ओवर (Super Over) को वन-ओवर एलिमिनेटर भी कहा जाता है | सुपर ओवर तब होता है जब दोनों टीमों के रन बार हो जाता है जिससे मैंच टाई हो जाता है और फिर मैंच का परिणाम लाने के लिए ‘सुपर ओवर‘ कराया जाता है |

सुपर ओवर के नियम (Rules for Super over)

  1. जो टीम दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रही होती है वो टीम सुपर ओवर में पहले बल्लेबाजी करती है ।
  2. सुपर ओवर के दौरान सिर्फ तीन प्लेयर ही बल्लेबाजी कर सकते है, जिसकी घोषणा बल्लेबाजी शुरू होने से पहले ही करनी पड़ती है।
  3. हर एक टीम को एक – एक ओवर खेलने को दिया जाता है|
  4. कोई एक खिलाड़ी बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों काम नहीं कर सकता है|
  5. सुपर ओवर में किसी भी टीम के 2 विकेट गिरने पर पारी समाप्त हो जाती है|
  6. अगर सुपर ओवर भी टाई हो जाता है तो एक और सुपर ओवर होगा और जब तक मैच का परिणाम नहीं निकालता तब तक सुपर ओवर होगा |(पहले था कि अगर सुपर ओवर भी टाई होता था तो जो टीम ने पूरे मैच में ज्यादा चौके लगाये हैं वह टीम जीत जाती थी. विश्व कप 2019 के विजेता का निर्णय भी इसी तरीके से हुआ था और उस मैच को England ने जीत लिया था)
  7. सुपर ओवर में बनाये गए रन और विकेट खिलाडियों के रिकॉर्ड में नही जोड़े जाते हैं |

क्या सुपर ओवर के आँकड़े गिनते है?

सुपर ओवर में बनाये गए रन और विकेट के आँकड़े में नही जोड़े जाते हैं |

Leave a Comment